थोड़ी-सी सच्चाई part-9

 पिछले भाग में आपने पढ़ा की प्रणय जब क्रिस्टीन के दिए पते पर पहुँचता है तो वहाँ एडी नहीं मिलता उसे घबराहट होती है लेकिन जैसे ही सामने उसे क्रिस्टीन दिखती है वो ख़ुशी से उसकी तरफ दौड़ पड़ता है लेकिन उसे अपनी बाहों में नहीं ले पाता। एडी के ना मिलने से क्रिस्टीन काफी दुःखी हो जाती है और उसे अकेले ही ढूंढनें जाने को तैयार होती है लेकिन प्रणय उसे अकेला नहीं छोड़ता और उसी के साथ गोवा की सड़को पर वो भी घूमने लगता है।लोगों को सिर्फ प्रणय दिखता है क्रिस्टीन नहीं ऐसे में लोग उसे पागल समझते है लेकिन आज उसे कोई फर्क नहीं पड़ रहा होता है। चलते-चलते क्रिस्टीन को एहसास होता है कि उसे ना सही लेकिन प्रणय को तो भूख लगती है इसीलिए वो प्रणय को रेस्त्रां लेकर जाती है जहां उसे एक जाना-पहचाना चेहरा दिखता है तो वह उसी के पीछे चल देती है और प्रणय उसके पीछे ।अब आगे-

यह भी पढ़े –

👉 थोड़ी-सी सच्चाई part-1 

👉थोड़ी-सी सच्चाई part-2

👉 थोड़ी-सी सच्चाई part-3

👉थोड़ी-सी सच्चाई part-4

👉थोड़ी-सी सच्चाई part-5

👉थोड़ी-सी सच्चाई part-6

👉थोड़ी-सी सच्चाई part-7

👉थोड़ी-सी सच्चाई part-8

क्रिस्टीन क्या हुआ? पीछे से प्रणय ने टोका, लेकिन वो सुन ना सकी या ध्यान ना दिया , क्रिस्टीन ….इस बार उसने तेज नाम पुकारा जिससे सामने वाले ने भी सुन लिया। क्या भाई,…पीछा कर रहे हो मेरा क्या ? उसने पलट के कहा।                         नहीं वो… actually … ऐसा नहीं है जैसा आप सोच रहें हैं…  तुम चेंजिंग रूम तक आ गए हो और बोल रहें हो ऐसा नहीं है! शांतनु…. ? क्रिस्टीन के मुँह से निकला लेकिन वो उस व्यक्ति को नहीं प्रणय को ही सुनाई दिया बस। कौन शांतनु…? प्रणय बोला।                                                    मेरे ही रेस्त्रां में आकर पूछ रहे हो कौन शांतनु. अरे मैं शान.. अरे आप चुप करें मैं आपसे नहीं कह रहा , हाँ तो तुम क्या कह रही थी? प्रणय का इतना कहना ही था कि उसने तुरंत अपने आसपास देखा लेकिन कोई लड़की नहीं थी, भाई दिमाग ठीक है आपका यहाँ कोई….                                 just shut up यार… प्रणय ये शांतनु है , एडी का दोस्त ये जरूर जानता होगा कि एडी कहाँ है इससे पूछ कर देखो। ठीक है। क्रिस्टीन की तरफ से नजरे हटा प्रणय ने शांतनु को देखा।

क्या तुम एडी कहाँ है क्या ये बता सकते हो मुझे? क्या…? तुम एडी को कैसे जानते हो ? वो लम्बी कहानी है बाद में बताऊंगा , तुम प्लीज बताओ की एडी है कहाँ अभी? अब जानकार भी कोई फायदा नहीं हैं, क्योंकि मैं उसके लिए किसी भी प्रकार का जोखिम और नहीं ले सकता। अजनबियों से मिलना वाकई उसके दिमाग को बुरी तरह प्रभावित कर सकता है। 

क्यों क्या हुआ उसे..? प्रणय ने हैरान होकर पूछा। जी ये एक लम्बी कहानी है जैसे आपकी जो मैं आपको नहीं बता सकता, आपको क्या काम है उससे ये मुझे बता दीजिये मैं उस तक…?

बेहद personal काम था क्रिस्टीन को जानते हो..?

वोह! वही बेवफा लड़की जिसका नाम शायद तुमने शुरू ही मे लिया था। शांतनु ने अपने दिमाग पर जोर दिया था। बेवफा ….! ये शब्द सुनकर न सिर्फ प्रणय हैरान था बल्कि क्रिस्टीन भी अवाक रह गई। लेकिन क्रिस्टीन थोड़ी ही देर में सामान्य हो गई जैसे की वो जानती थी कि उसे ऐसे ही सम्बोधित किया जाएगा । लेकिन प्रणय इसके लिए बिलकुल तैयार नहीं था।             तुमने उसे बेवफा क्यों कहाँ..?                                                      तुम्हारी गर्लफ्रेंड तुम्हें छोड़कर किसी और के साथ चली जाए तो तुम उसे क्या कहोगे..? शांतनु अब तक एक cigarette सुलगा चुका था उसने एक प्रणय को भी पेश की थी लेकिन उसने मना कर दी। 

क्रिस्टीन किसी और के साथ गई है ये तुम कैसे कह सकते हो? क्या तुमने उसे जाते हुए देखा हैं? 

नहीं मगर….

नहीं मगर क्या.. अगर कोई लड़की अपने घर से भागी है तो इसका मतलब यही होता है कि वो किसी के साथ ही भागी है ? कोई अपने ख्वाबो के लिए कोई अपनी जिन्दगी के लिए या किसी और मजबूरी में नहीं भाग सकती क्या? कई और भी…. प्रणय प्लीज बहस मत कीजिये , बस इससे एडी का पता पूछिए… क्रिस्टीन ने बीच में ही उसे टोक दिया लेकिन प्रणय ने रोती हुई क्रिस्टीन पर ज़रा भी ध्यान ना दिया।           यार कई और भी कारण होतें हैं किसी के घर से भागने के सब प्यार के चक्कर में ही भागे जरुरी तो नहीं, और क्रिस्टीन जैसी लड़की तो ऐसी बिल्कुल भी नहीं कर सकती…                     तुम हो कौन क्रिस्टीन के? जो उसे इतने अच्छे से justify कर रहे हो? शांतनु ने सिगरेट के बड को जूते के नीचे कुचलते हुए कहा लेकिन प्रणय को ऐसा लगा कि उसने सिगरेट की बड नहीं बल्कि उसके सुकून को पैरों तले रौदा हो। सच में सवाल कहाँ से गलत है भला! वो है कौन क्रिस्टीन का ? कोई भी तो नहीं … प्रणय थोड़ा अचकचा गया, लेकिन फिर भी बात सँभालते हुए बोला, तुम बता सकते हो की एडी को हुआ क्या है मैं तुम्हें यकीन दिलाता हूँ कि ज़रा-सी भी कोई गड़बड़ नहीं होगी। अगर तुम समझ सकते तो मैं तुम्हें जरूर समझाता की मेरा मिलना उससे कितना जरुरी है। शांतनु ने थोड़ी देर प्रणय को देखा कुछ सोचकर कहा , दअरसल वो हॉस्पिटल में है।      क्या …? एक साथ दो हैरानी भरी आवाजे कमरें में गूंजी एक तो सुनी जा सकती थी लेकिन दूसरी नहीं।                              हाँ, क्रिस्टीन के चलें जाने के बाद से ही एडी टूट गया था शादी की जितनी तैयारियां की थी सब धरी की धरी रह गई। वो ये बात मनाने को ही राजी नहीं हो रहा था कि क्रिस्टीन शादी से महज 3 दिन पहले ही गायब हो सकती है।उसने कहा की जैसे भी हो वो शादी से पहले उसे ढूंढ कर लाएगा , और उसे ढूंढ़ने में उसका सब कुछ चला गया घर तो शादी के लिए पैसे जुटाने में पहले ही गिरवी रख दिया था ।       


       

थोड़े से पैसे लेकर निकल गया वो हफ्ते भर बाद खबर मिली हमें की एडी का accident हो गया है। हम सब ने जब उसे हॉस्पिटल में देखा तो हैरान रह गए बेहोशी मे भी वो क्रिस्टी.. क्रिस्टी कहा करता था। हमने अख़बार में एडी के बारे में छपवाया था ये सोचकर की शायद उसे पढ़कर क्रिस्टीन वापस आ जाए लेकिन वो बे-दिल लड़की उफ्फ….। शांतनु ने एक लम्बी सांस ली।                                                           प्रणय कुछ नहीं बोल पाया बस एक सवाल का जवाब ढूंढने लगा , वाकई कोई किसी को इतना प्यार कर सकता है? क्या उसने कभी माही से या माही ने उससे ऐसा प्यार किया ? नहीं हम दोनों को तो शायद प्यार के नाम का सही अर्थ भी नहीं पता। उसने क्रिस्टीन के भीगे हुए चेहरे की तरफ देखा” वाकई वो रोते हुए भी प्यार करने लायक है बेइंतहा खूबसूरत… ” लेकिन….लेकिन इसने फिर एडी को क्यों छोड़ दिया …? ये सवाल आते ही प्रणय के माथे पर सिकुड़न पड़ गई।लेकिन उसने क्रिस्टीन से कुछ नहीं कहा क्योंकि जानता था कि अभी जवाब नहीं मिलेगा जवाब जानने के लिए उसे एडी से मिलवाना होगा।    

                              तुम मुझे एक बार एडी से मिलवा दो यार, बहुत जरुरी है वक्त बहुत कम रह गया है उसके बाद सब खत्म हो जाएगा , बस एक बार…. मैं उनका ज्यादा वक्त नहीं लूँगा।

ठीक है यार लेकिन कुछ भी ऐसा ना कहना कि वो पिछला याद करें, बहुत मुश्किल वक्त है उसके लिए …प्लीज थोड़ा समझना। शांतनु ने प्रणय के दोनों हाथ अपने हाथ में पकड़ते हुए कहा। लेकिन प्रणय हौले से ज़रा सी मुस्कान दी बस क्योंकि जो जानता था कि वो क्या करने जा रहा है ऐसे मे कोई झूठा वादा नहीं कर पाया वो।

क्या होगा जब प्रणय क्रिस्टीन और एडी की मुलाकात करवाएगा? क्या वो वजह सामने आएगी जिससे क्रिस्टी उसे छोड़ कर चली गई थी?आखिर क्रिस्टीन की मौत का राज क्या है उसने आत्महत्या की थी की उसको मारा गया था ? ये कुछ ऐसे सवाल है जो पूरी कहानी का सार लिए हुए हैं इनके जवाब जाने बिना आपको पूरी स्टोरी समझ नहीं आएगी।लेकिन इनके जवाब के लिए आपको इसके अगले भाग का इंतजार करना होगा।

Leave a comment