Psycho lover : Hindi love story part-8

 आदित्य ने सोचा था कि ओजू को जब उसके ड्रग लेने की बात पता चलेगी तो वो बहुत नाराज होगी, डांटेगी और हो सकता था कि बात भी ना करती कुछ दिनों तक। लेकिन ऐसा कुछ भी न होता देख और उलटे उसे पहले से ज्यादा नर्मी से पेश आने पर आदित्य हैरान और परेशान … Read more

Psycho lover : Hindi love story part-7

 क्या कहानी बना रहे हो दोस्त, मजा आ गया सुनकर। मैं अपनी दोस्त को मरूंगा सिर्फ इसलिए की तुम फंस जाओ और ओजू मेरी हो जाये वाह ! आदित्य ने दरवाजे के पास रखे स्टूल को लात से ठोकर मारकर एक किनारे फेंक दिया और उन दोनों के पास जाकर खड़ा हो गया । आदित्य … Read more

Psycho lover : Hindi love story part-6

 लक्ष्य शेसी के साथ बाजार गया हुआ था , वहीं से कुछ चीजें उसने उज्जवला के लिए भी ले ली थीं और वहीं से सीधा ओजू के घर की तरफ गाड़ी घूमा दी थी शेसी से ये कहते हुए कि आज तीनों बैठ कर वहीं मूवी देखेंगे।   लक्ष्य ने जैसे ही ओजू के घर में … Read more

Psycho lover : Hindi love story part-5

ओजू ने खुद को बहुत मजबूत करके , आदित्य की दोस्ती को दांव पर लगाकर और उसकी और अपनी फैमिली की परवाह किये बिना उसने आज आदित्य को सब कुछ बताने के लिए गाँव के बाहर वाले पुराने मंदिर के पास मिलने को बुला लिया था। आदित्य रास्ते भर यहीं सोच-सोच कर खुश होता रहा … Read more

Definations of Attribution ,Types and example.

  Definations of Attribution ,Types and example  1. “Attribution is a presumption about the cause of a person’s behavior or an interpersonal event.” – American psychological association ( APA) “किसी व्यक्ति के व्यवहार या एक पारस्परिक घटना के कारण के बारे में अनुमान को आरोपण कहतें हैं ।”  2. शेवर (1977) के अनुसार, “गुणारोपण प्रक्रम ऐसे … Read more

हरिशंकर परसाई ,’ प्रेम की बिरादरी ।’

 उनका सब कुछ पवित्र है। जाति में बाजे बजाकर शादी हुई थी। पत्नी ने 7 जन्मों में किसी दूसरे पुरुष को नहीं देखा। उन्होंने अपने लड़के-लड़की की शादी सदा मंडप में की। लड़की के लिए दहेज दिया और लड़के के लिए लिया। एक लड़का खुद पसंद किया और उसे लड़की का पति बना दिया। एक … Read more

“प्रेरणा” प्रेमचंद की कहानी

 प्रेरणा प्रेमचंद की कहानी    मेरी कक्षा में सूर्यप्रकाश से ज्यादा ऊधमी कोई लड़का न था, बल्कि यो कहो कि अध्यापन-काल के दस वर्षों में मेरा ऐसी विषम प्रकृति के शिष्य से सामना न पड़ा था। कपट-क्रीड़ा में उसकी जान बसती थी । अध्यापकों को बनाने और चिढ़ाने, परिश्रमी बालकों को छेड़ने और रुलाने में … Read more

“उम्र का फ़र्क निदा फ़ाज़ली की कविता

 बहुत सारी खनकती हुई किलकारियों को सुन कर मैं किताब बंद करके कमरे से आँगन में आया लेकिन मुझे देखते ही मारिया के साथ हँसते खेलते उसके सारे नन्हे-मुन्ने साथी सहम सहम कर अपनी-अपनी शाख़ों पर वापस जाकर फिर से फूल बन गए केतकी चमेली गुलाब

” उन आँखों में बुल्लेशाह गाता होगा” बाबूषा कोहली

 उन आँखों को कौन सुखा पाता होगा  उन आँखों में दरिया सुस्ताता होगा  उन आँखों में  डूबे जो इक बार कोई  उन आँखों से बाहर न आता होगा  उन आँखों में  एक पहेली उलझी है  उन आँखों को रब ही सुलझाता होगा  उन आँखों में  प्यास भरी है जन्मों की  उन आँखों का सावन अब … Read more

Psycho lover : Hindi love story part-4

 उज्जवला ने इन दो तीन महीनों में खुद को आदित्य को सबकुछ बताने और उससे रिश्ता ख़त्म करने के लिए खुद को तैयार कर लिया था। अगले हफ्ते जब आदित्य आएगा तो वो सबसे पहले यही बात उससे करेगी । उसके बाद माँ की परमिशन मिलने पर वो और लक्ष्य हमेशा-हमेशा के लिए एक हो … Read more